गौशाला में अब तक हुए मुख्य कार्य

गौशाला में अब तक हुए मुख्य कार्य जो आपके सहयोग से सम्पूर्ण हो चुके है । :-

1    २८ लाख लीटर पानी का कुंड बनकर चालू हो चुका है व पूरी गौशाला में ४००० फीट की पाईप लाईन डालकर

     गउओं को नहरी पानी पीने के लिए दिया जाता है ।

2    ६५००० लीटर क्षमता की पानी की टंकी बनकर चालू हो चुकी है ।

3   २ बड़े गौबर गैस प्लांट बनकर चालू हो चुके है जिनसे प्रतिदिन १४ स्वामनी (गुड़ व दलिया से निर्मित) तैयार

    करके गउओं को खिलाई जाती है ।कोई भी गौभक्त मात्र 1100/- में गौशाला में गौमाता की एक स्वामणी लगाकर

    गौमाता का   मुंह मीठा करने का पुण्य प्राप्त कर सकता है ।

4    एक बडे  पशु अस्पताल की बिल्डिंग बनकर तैयार हो चुकी है ।

5    पशु अस्पताल के साथ में एक नये कार्यालय तथा सभा कक्ष की बिल्डिंग बनकर तैयार हो चुकी है ।

 

6    २ नए बड़े शैड बनकर तैयार हो चुके हैं, जिनमें केचुंओ के लिए बैड बनाए गए है ।

7    २८ एकड़ जमीन में एक नया सोलर टयूबवैल लग कर चालू हो चुका है जिससे गउओं

      के लिए हरे चारे का उत्पादन और अधिक बढ़या जा सकेगा ।

8    गौमाता के गौबर से केंचुओं द्वारा जैविक खाद का निर्माण किया जाता है ।

      इसके लिए दो प्लांट लगाएं गए है । तथा इसका मुल्य 5 रूपए प्रतिकिलो रखा गया है ।

९    गौशाला ने एक एम्बूलैंस खरीदी है जिसका उपयोग घायल, बीमार एक्सीडेंटल गायों

      को लाकर उनका ईलाज करने के लिए किया जाता है ।

१०    गौशाला में २० हजार क्विंटल तूड़ी की क्षमता के दो गौदाम बनाए हैं ।

       जिसका उपयोग वार्षिक तूड़ी का स्टॉक करने के लिए किया जाता है ।